कहानी में संवाद क्यों महत्त्वपूर्ण होते हैं?

संवाद कहानी का महत्त्वपूर्ण भाग है। संवाद ही कहानी को, पात्र के चरित्र को विकसित करते हैं तथा कहानी को गति प्रदान करते हैं।

अत: कहानी लेखक का सदा ही यह प्रयास रहता है कि कहानी के संवाद स्वाभाविक हों और पाठकों तक वे दिलचस्प और आकर्षक रूप में पहुँचें। संवाद लिखते समय लेखक नहीं, पात्र संवाद बोलता है पाठक लेखक से नहीं पात्र से, चरित्र से जुड़ता है।

अत: संवादों के माध्यम से ही यह स्पष्ट होता है कि कौन बोल रहा है; किस स्तर का व्यक्ति बोल रहा है; उसकी पृष्ठभूमि क्या है; उसका व्यवसाय या कार्य क्या है आदि-आदि।

जो घटना या प्रतिक्रिया कहानीकार घटित होते नहीं दिखा सकता उसे संवादों के माध्यम से ही सामने लाने में समर्थ होता है अतः कहानी में संवादों की भूमिका महत्त्वपूर्ण होती है।