संक्रामक और असंक्रामक रोग किसे कहते हैं

रोगों को उनके फैलने के तरीको के आधार पर दो वर्गो में बाँटा गया है – a) असंक्रामक रोग b) संक्रामक रोग

a) असंक्रामक रोग ये रोग पीड़ित व्यक्ति तक सीमित रहते है और अन्य व्यक्ति में नहीं फैलते है जैसे – हृदय रोग , कैंसर , एलर्जी

a) संक्रामक रोग – रोगाणु या सूक्ष्मजीव द्वारा होने वाले रोगों को संक्रामक रोग कहते है | ऐसे रोग संक्रमित व्यक्ति से स्वस्थ व्यक्तियों में फैलते है |जैसे- जुकाम , हैजा , प्लेग, त्वचा सम्बंधित रोग आदि संक्रामक रोग के उदाहरण है |

संक्रामक रोग को फ़ैलाने वाले कारक तथा रोग के नाम –
1. विषाणु (Virus) – सर्दी, जुकाम , चेचक, एड्स, इन्फ्लूएंजा आदि
2. जीवाणु (Bacteria) – हैजा, खसरा , क्षय रोग , एंथ्रेक्स , टिटनेस
3. कवक (Fungi) – दार (रिंग वोर्म्स )
4. प्रोटोजोआ (Protozoa)- मलेरिया , कालाजार , पेचिश
5. कृमि जनित रोग (Worm) – फील पाँव