भावार्थ और व्याख्या में क्या अंतर है

1. भावार्थ संक्षिप्त होना चाहिए  जबकि व्याख्या में विस्तृत विवेचन के साथ-साथ आलोचना तथा टीका-टिप्पणी करने की भी छूट रहती है।

2.  भावार्थ में भाव-विस्तार की एक सीमा होती है  जबकि  व्याख्या में नहीं |