तुलसीदास के काव्य सौंदर्य पर प्रकाश डालिए​ ?

तुलसीदास के काव्य सौंदर्य:-

  • गोस्वामी तुलसीदास ने राम के रूप का सौन्दर्य के निरूपण सुन्दर रूप से ग्रहण किया है।
  • वह सौन्दर्य के उपासक माने जाते है।
  • उनके अनुसार श्री राम सुंदर हैं एवं सुंदर होने के लिए संपूर्णरूपसे, सर्वात्मना, समर्पित हुए है।
  • रामचरितमानस में विस्तृतरूपमें केवल राम के ही रूप–सौन्दर्य का वर्णन पाया गया है।
  • राम का वर्णन विस्तृत रूप से पांच बार किया गया है ।
  • चार बार बालकांड में हुआ है और एक बार उत्तरकांड में हुआ है।