कैसर-ए-हिंद किसे कहा जाता है ?

महात्मा गाँधी को कैसर-ए-हिंद कहा जाता है |

उन्हें अंग्रेजों ने ‘कैसर-ए-हिन्द’ की उपाधि प्रदान की थी ।

यह उपाधि इन्हें प्रथम विश्व युद्ध के दौरान लोगों को सेना में भर्ती होने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए दिया था ।

इसके कारण लोगों ने गांधी को भर्ती कराने वाला सार्जेण्ट कहना शुरू किया ।

13 अप्रैल, 1919 ई. में हुए जलियाँवाला बाग हत्याकाण्ड के विरोध में इन्होंने यह उपाधि वापस कर दी थी ।