आहार नाल के कितने भाग होते हैं

मनुष्य की आहारनाल (Alimentary canal) में निम्नलिखित भाग होते हैं

(i) मुख एवं मुखगुहा (Mouth and buccal cavity) यह पाचन तन्त्र का प्रथम भाग बनाता है। मुख अन्दर की ओर मुखगुहिका में खुलता है, जिसमें तालु, जिह्वा, दाँत तथा लार ग्रन्थि की संरचनाएँ पाई जाती हैं।

(ii) ग्रसनी (Pharynx) यह मुखगुहा के पीछे का भाग है। यह 12-14 सेमी लम्बी कीपाकार तथा वायु और भोजन मार्ग की संयुक्त नली होती है।

(iii) ग्रासनली (Oesophagus) यह भोजन को मुखग्रासन गुहा से आमाशय में पहुँचाने का कार्य करती है।

(iv) आमाशय (Stomach) यह आहारनाल का सबसे चौड़ा तथा थैलेनुमा भाग है। जिसमें जठर ग्रन्थियाँ पाई जाती हैं। जिससे भोजन के पाचन हेतु जठर रस निकलता है।

(v) छोटी आँत ( Small intestine) छोटी आँत को आहारनाल का सबसे लम्बा भाग (6-7 मीटर) माना जाता है। भोजन का अवशोषण छोटी आँत में हो जाता है।

(vi) बड़ी आँत (Large intestine) छोटी आँत से बचा हुआ भोजन व 90% जल बड़ी आँत में होता है।