हिन्दी शब्द किस भाषा से लिया गया है ?

    प्रश्नकर्ता krish12
    Participant
Viewing 1 replies (of 1 total)
  • उत्तर
    उत्तरकर्ता jivtarachandrakant
    Moderator

    हिन्दी शब्द  फारसी  भाषा से लिया गया है जो संस्कृत शब्द ‘सिन्धु’ का फारसी रूपान्तरण है।

    हिन्दी के भाषा रूप का विकास :-   

    हिन्दी भारत गणराज्य मे सबसे व्यापक रूप से बोली जाने वाली प्राथमिक आधिकारिक भाषा है।

    देशी वक्ताओं के अनुसार, संख्या के अनुसार हिन्दी विश्व में चौथी सबसे व्यापक रूप से बोली जाने वाली भाषा है, जिसमें अंग्रेजी के बाद, स्पेनिश और चीनी इस तरह की रैंकिंग लगभग जाहिर कर रहे हैं।

    आज हिन्दी और हिन्दी बोलियों की गैर देशी वक्ताओं में शामिल शायद हिन्दी दूसरी या तीसरी दुनिया में सबसे व्यापक रूप से बोली जाने वाली भाषा है।

    हिंदी शब्द की व्युत्पत्ति भारत के उत्तर-पश्चिम में प्रवाहमान सिंधु नहीं से सम्बन्धित है। अधिकांश विदेशी यात्री और आक्रमणकारी उत्तर-पश्चिमी सिंहद्वार से ही भारत आए।

    भारत में आने वाले इन विदेशियों ने जिस देश के दर्शन किए, वह ‘सिंधू‘ का देश था। ईरान के साथ भारत का प्राचीनकाल से ही सम्बन्ध थे एवं ईरानी ‘सिंधु’ को अपनी भाषा में ‘हिन्दु‘ कहते थे।कालांतर में हिन्दू शब्द संस्कृत में प्रचलित हुआ परंतु यह संस्कृत के ‘सिन्धु’ शब्द से ही विकसित है।

    बाद में हिन्दू से ‘हिन्द’ बना और फिर ‘हिन्द’ में फारसी भाषा के सम्बन्ध कारक प्रत्यय ‘‘ लगने से ‘हिंदी‘ बन गया। ‘हिंदी’ का अर्थ है- ‘हिन्द का’। इस प्रकार हिंदी शब्द की उत्पत्ति हिन्द देश के निवासियों के अर्थ में हुई। और आगे चलकर यह शब्द ‘हिंदी भाषा‘ के अर्थ में प्रयुक्त होने लगा।

    आज यह अनुमान करना मुश्किल है कि कितने भारतीय हिन्दी को उनके अपर्याप्त जनगणना के आंकड़ों की वजह से देशी या दूसरी भाषा के रूप में माना जाता है ।

    हालांकि, यह नोट करना महत्वपूर्ण है कि भारत एक बहुत बड़ी विविधता वाला देश है, जहां की साधारण जनता कई भाषाओं में बात करती है, भारतीय 2001 की जनगणना के अनुसार, 27 प्रतिशत अपनी मूल भाषा, और 43 प्रतिशत भारतीय हिंदी एवं 30 प्रतिशत एक दूसरी भाषा के रूप में बोलते हैं या कम से कम भाषा को समझते हैं।

    हालांकि, जनगणना में इस्तेमाल की गई ‘हिन्दी’ की परिभाषा काफी उदार रहती है, जिसके कारण वास्तविक प्रतिशत शायद बहुत कम आँकी जाती है।’

    हिन्दी की शब्दावली संस्कृत, फारसी और अरबी सहित कई प्रमुख स्रोतों से निकली है। अंग्रेजी की शब्दावली भी बोलचाल की हिन्दी में विशेष रूप से शामिल है।

    हिंदी और उर्दू भाषा की विभिन्न शब्दावली मुख्य रूप से औपचारिक और साहित्यिक शैलियों में सबसे प्रमुख हैं। साहित्यिक हिन्दी संस्कृत से है

    जबकि साहित्य उर्दू फारसी और अरबी से प्रेरित है हालांकि, बोलचाल की हिंदी में उर्दू शब्दावली को मिलाया जाता है। साधारण रूप से विचारें तो व्याकरण की दृष्टि से दोनों भाषाएँ मूल रूप से समान हैं।

Viewing 1 replies (of 1 total)
  • इस प्रश्न पर अपना उत्तर देने के लिए कृपया logged in कीजिये