श्री राम के चरित्र पर संक्षिप्त टिपण्णी

    प्रश्नकर्ता mamta
    Participant
Viewing 1 replies (of 1 total)
  • उत्तर
    उत्तरकर्ता Shivani
    Participant

    श्री राम को मर्यादा पुरुषोत्तम को कहा जाता है।

    • वह एक आदर्श राजा थे।
    • वह सहनशीलता की मूर्ति थे।
    • वह धीरवान, धैर्यवान, न्यायी, त्यागी, पराक्रमी थे।
    • वह अपार शक्ति का स्त्रोत है एवं प्रेम की पूंजी है।
    • उनका चरित्र अनुकरणीय है।
    • वह सभी लोग से आदर से बात करते थे।

    श्री राम के जीवन से मिलनी वाली शिक्षा:

    • श्री राम हमें अपने माता-पिता की आज्ञा मानने के बारे में बहुत कुछ सिखाते हैं।
    • गुरु हमेशा हमें ज्ञान प्रदान करते हैं, जिसका उपयोग हम आगे बढ़ने के लिए कर सकते हैं।
    • हमें हमेशा अपने गुरु का सम्मान करना चाहिए, क्योंकि वे हमारी आध्यात्मिक यात्रा में एक महत्वपूर्ण व्यक्ति हैं।
    • आपको कभी भी किसी से छोटा या हीन महसूस नहीं करना चाहिए।
    • उनके जीवन का अनुकरण करके हम अपने जीवन को तार सकते है और हमें दुनिया को देखने का नजरिया बदल जाता है।
Viewing 1 replies (of 1 total)
  • इस प्रश्न पर अपना उत्तर देने के लिए कृपया logged in कीजिये