विविध बुद्धिमत्ता का सिद्धांत किसने प्रस्तुत किया था

    प्रश्नकर्ता maharshi
    Participant
Viewing 1 replies (of 1 total)
  • उत्तर
    उत्तरकर्ता jivtaraQuizzer
    Participant

    विविध बुद्धिमत्ता का सिद्धांत हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में शिक्षा के प्रोफेसर “डॉ हॉवर्ड गार्डनर” ने वर्ष 1983 में प्रस्तुत किया था |

    यह बताता है कि बुद्धि की पारंपरिक धारणा, आई. क्यू. पर आधारित है।

    गार्डनर की विविध बुद्धिमत्ता का सिद्धांत इस बात पर बल देता है कि मानव मस्तिष्क द्वारा उपयोग की जाने वाली बुद्धिमत्ता के विभिन्न प्रकार हैं।

    उनका मानना है कि बुद्धि बच्चों की आनुवंशिकता और अनुभवों के बीच जटिल संवाद का परिणाम है।

    डॉ. गार्डनर ने बच्चों और वयस्कों में मानव क्षमता की व्यापक श्रेणी के लिए आठ अलग-अलग बुद्धिमत्ता का प्रस्ताव रखा।

    गार्डनर के अनुसार बुद्धिमत्ता के प्रकार निम्न हैं:-
    * भाषाई बुद्धिमत्ता
    * तार्किक-गणितीय बुद्धिमत्ता
    * विशेष बुद्धिमत्ता
    * शरीर-संवेदनात्मक बुद्धिमत्ता
    * संगीत बुद्धिमत्ता
    * व्यक्तिगत आत्म बुद्धिमत्ता
    * व्यक्तिगत-अन्य बुद्धिमत्ता
    * प्राकृतिक बुद्धिमत्ता

Viewing 1 replies (of 1 total)
  • इस प्रश्न पर अपना उत्तर देने के लिए कृपया logged in कीजिये