मानव विकास के किन्हीं दो प्रमुख घटकों के नाम बताइए

    प्रश्नकर्ता krish12
    Participant
Viewing 1 replies (of 1 total)
  • उत्तर
    उत्तरकर्ता jivtarachandrakant
    Moderator

    मानव विकास के प्रमुख घटक निम्नलिखित है:-

    1 स्वास्थ्य

    2 साक्षरता

    3 संसाधनों तक पहुँच

    1. स्वास्थ्य- स्वास्थ्य का मूल्यांकन जन्म के समय जीवन-प्रत्याशा (Lile Expectancy at Birth) से किया जाता है। जीवन प्रत्याशा जीवन की अभिलाषा है।

    यह जीवन प्रत्याशा वर्षों के रूप में नापी जाती है। जितनी ही उच्च जीवन प्रत्याशा होगी, उतना ही अधिक विकास का सूचकांक होगा। यह 25 से 85 वर्ष के बीच देखी जाती है।

    जीवन प्रत्याशा बढ़ाने या दीर्घ आयु के महत्वपूर्ण मापों में पूर्व एवं प्रसवोत्तर स्वास्थ्य सुविधाओं की उपलब्धता बढ़ाकर शिशु मृत्यु दर, मातृ प्रसवोत्तर मृत्यु दर को कम करना, वृद्ध आयु वर्ग के व्यक्तियों के लिए उत्तम स्वास्थ्य सेवाएँ, पर्याप्त पोषण तथा व्यक्तियों की सुरक्षा सम्मिलित है।

    2.साक्षरता– साक्षरता के मूल्यांकन के लिए प्रौढ़ साक्षरता दर, विद्यालयों में सकल नामांकित बच्चों को संख्या तथा स्कूलिंग की अवधि को आधार माना जाता है।

    3. संसाधनों तक पहुँच– संसाधनों तक पहुँच का आशय उत्तम ढंग से जीवन जीने हेतु साधनों की प्राप्ति से है।

    इसे राष्ट्रीय आय या प्रति व्यक्ति आय या मानव की क्रय शक्ति के आधार पर मापा जाता है।

    सामान्यत: न्यूनतम 100 अमेरिकी डॉलर से 40,000 अमेरिकी डॉलर के उच्चतम स्तर तक आय का विवरण देखा जाता है।

    किसी देश की स्थिति मानव विकास के इन्हीं तीनों आधारभूत आयामों के आधार पर निर्धारित की जाती है।

    मानव विकास सूचकांक विभिन्न देशों का स्थान निर्धारण एक-दूसरे की तुलना में करता है, ताकि उन्हें बताया जा सके कि वे मानव विकास की दिशा में कितना अग्रसर हो चुके हैं और कितना और आगे जाना है।

    इस प्रकार मानव विकास सूचकांक मानव विकास के स्तरों को दर्शाता है, न कि विकास के सम्पूर्ण मूल्यांकन को।

    मानव विकास के आधारभूत सूचकांक

    मानव विकास सूचकांक का प्रतिपादन सर्वप्रथम वर्ष 1990 में भारतीय अर्थशास्त्री प्रो. अमर्त्य सेन तथा अर्थशास्त्री महबूब-उल-हक ने किया था।

    मानव विकास मापन हेतु संयुक्त राष्ट्र संघ विश्व के 193 देशों में से 188 सदस्य देशों का मानव विकास रिपोर्ट प्रकाशित करता है।

    इससे मानव विकास सूचकांक (Human Development Index : HDI) ज्ञात किया जाता है। यह सूचकांक स्वास्थ्य, साक्षरता तथा संसाधनों तक पहुंच के सन्दर्भ में मापा जाता है।

    इनमें से प्रत्येक को 1/3 भारित दी जाती है। इस आधार पर मानव विकास सूचकांक का मूल्य0 से 1 के मध्य पर आधारित होता है।

    मानव विकास सूचकांक का मूल्य एक के जितना अधिक समीप होता है, उतना ही मानव विकास का स्तर अधिक माना जाता है या उच्च ही माना जाता है।

    मानव विकास का 0.938 मूल्य मानव विकास का उच्च स्तर माना जाता है, जबकि 0.268 मूल्य मानव विकास का अत्यन्त निम्न स्तर माना जाता है।

     

Viewing 1 replies (of 1 total)
  • इस प्रश्न पर अपना उत्तर देने के लिए कृपया logged in कीजिये