बीमा के आधारभूत सिद्धांतों का वर्णन कीजिए

    प्रश्नकर्ता meeso
    Participant
Viewing 1 replies (of 1 total)
  • उत्तर
    उत्तरकर्ता jivtarachandrakant
    Moderator

    बीमा में जितना भी नियम लागू किया जाय उसका आधार यह है कि बीमादार जिस जोखिम के लिए बीमा पालिसी लेता है यदि उस जोखिम की वजह से नुकसान होता है तब उसे पूर्ण क्षतिपूर्ति पाने का अधिकार है।

    लेकिन वह किसी भी हालत में पूर्ण क्षतिपूर्ति से ज्यादा नहीं पा सकता है । यह बीमा का आधारभूत सिद्धान्त है ।

    इस सिद्धान्त के अनुसार

    (क) बीमादार को यह साबित करना पड़ता है कि बीमा की विषय-सामग्री की क्षति होने से उसे वास्तविक आर्थिक क्षति कितनी हुई।

    (ख) बीमादार को सिर्फ वास्तविक क्षति ही मिल सकता है, लेकिन बीमा की रकम से ज्यादा किसी भी हालत में नहीं प्राप्त हो सकता है।

    (ग) अगर एक ही वस्तु का एक से ज्यादा बीमादाताओं से दुहरा-बीमा कराया गया है तब सभी बीमादाता वास्तविक क्षति के अनुपात में क्षति की पूर्ति करेंगे।

    (घ) आंशिक क्षति होने पर क्षति-निर्धारण का आधार बाजार-मूल्य के आधार पर किया जाता है।

Viewing 1 replies (of 1 total)
  • इस प्रश्न पर अपना उत्तर देने के लिए कृपया logged in कीजिये