नायलाॅन का उपयोग किसमें किया जाता है

    प्रश्नकर्ता yoginath
    Participant
Viewing 1 replies (of 1 total)
  • उत्तर
    उत्तरकर्ता jivtarachandrakant
    Moderator

    नायलाॅन का उपयोग आटोमोबाइल के टायरों को बनाने में, मोज़ों,दाँत के ब्रशों, वस्त्रों, इत्यादि में होता है।

    नायलाॅन – नायलॉन ऐलिफ़ैटिक यौगिकों पर आधारित कृत्रिम पॉलीमरों का सामूहिक नाम है- जिसे रेशों, परतों और अन्य आकारों में ढाला जा सकता है।

    कृत्रिम या सिंथेटिक पॉलीमर मानव निर्मित होते हैं । पॉलीमर शब्द का प्रथम प्रयोग जोंस बर्जिलियस ने 1833 में किया था।

    यह अधिक तापमान पर पिघल जाता है ।

    यह अपनी ताकत, तापमान लचीलापन और रासायनिक संगतता के कारण वाहनों के इंजन डिब्बे में घटकों के लिए पसंद का प्लास्टिक है।

    यह असाधारण रूप से मजबूत हाेेता है, अम्लीकरण और नमी अवशोषण के लिए अपेक्षाकृत प्रतिरोधी, लंबे समय तक चलने वाले, रसायनों के प्रतिरोधी, लोचदार और आसानी से धोना नायलॉन को अक्सर कम शक्ति वाले धातुओं के लिए विकल्प के रूप में प्रयोग किया जाता है।

    विशेष रूप से नायलॉन की मांग और आम तौर पर सिंथेटिक सामग्री द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान बढ़ी जब रेशम, रबड़ और लेटेक्स जैसे प्राकृतिक सामान काफी कम आपूर्ति में थे ।

Viewing 1 replies (of 1 total)
  • इस प्रश्न पर अपना उत्तर देने के लिए कृपया logged in कीजिये