“दो बैलों की कथा” से हमें क्या प्रेरणा मिलती है

    प्रश्नकर्ता Contact form User
    Participant
Viewing 1 replies (of 1 total)
  • उत्तर
    उत्तरकर्ता pscfighter
    Participant

    मुंशी प्रेमचंद द्वारा लिखित दो बैलों की कथा समाज और पशुओं के भावात्मक संबंध का वर्णन करता है|

    इस कहानी मैं उन्होंने यह बताया है कि स्वतंत्रता सहज और आसानी से नहीं मिलती उसके लिए बार-बार संघर्ष करना पड़ता है |

    इस प्रकार यह कहानी हमें परोक्ष रूप से आजादी के आंदोलन की भावना का हमें एहसास कराती है|

    इसके साथ ही इस कहानी में मुंशी प्रेमचंद जी ने पंचतंत्र और हितोपदेश की कथा परंपरा का, उपयोग और विकास बखूबी से किये है तथा समाज में एक अच्छी सीख देने का प्रयास किये है |

Viewing 1 replies (of 1 total)
  • इस प्रश्न पर अपना उत्तर देने के लिए कृपया logged in कीजिये