जेनर डायोड में भंजन वोल्टता समझाइए।

    प्रश्नकर्ता Contact form User
    Participant
Viewing 1 replies (of 1 total)
  • उत्तर
    उत्तरकर्ता Quizzer Jivtara
    Participant

    जब p-n सन्धि पर एक उच्च उत्क्रम वोल्टता आरोपित की जाती है तो इसमें काफी अधिक उत्क्रम धारा प्रवाहित होती है। यह प्रभाव जेनर भंजन कहलाता है। इसको ऐलेवांश भंजन भी कहते हैं। यह वोल्टता भंजक वोल्टता कहलाती है।

Viewing 1 replies (of 1 total)
  • इस प्रश्न पर अपना उत्तर देने के लिए कृपया logged in कीजिये