जायसी किस धारा के प्रवर्तक थे

    प्रश्नकर्ता Contact form User
    Participant
Viewing 1 replies (of 1 total)
  • उत्तर
    उत्तरकर्ता Quizzer Jivtara
    Participant

    जायसी प्रेममार्गी धारा के कवि है। ये सूफी परम्परा से सम्बन्धित है।

    इन्होंने नागमती वियोगवर्णन बहुत ही मार्मिक ढंग से किया है।

    जायसी के तीन काव्य-ग्रन्थ पाये जाते हैं (1) पद्मावत (2) इखरावट और (3) आखिरी कलाम पद्मावत हिंदी के प्रसिद्ध महाकाव्यों में से है।

    इसका रचना-काल सन् 1540 है।

Viewing 1 replies (of 1 total)
  • इस प्रश्न पर अपना उत्तर देने के लिए कृपया logged in कीजिये