चन्द्रगुप्त मौर्य का प्रधानमंत्री कौन था

    प्रश्नकर्ता psc सवाल
    Participant
Viewing 1 replies (of 1 total)
  • उत्तर
    उत्तरकर्ता jivtaraQuizzer
    Participant

    चन्द्रगुप्त मौर्य का प्रधानमंत्री चाणक्य था |

    वे कौटिल्य या विष्णुगुप्त नाम से भी जाने जाते हैं।

    उनके द्वारा रचित अर्थशास्त्र नामक ग्रन्थ राजनीति, अर्थनीति, कृषि, समाजनीति आदि का महान ग्रंन्थ है ।

    चाणक्य और चन्द्रगुप्त के जीवन एवं उनकी उपलब्धियों के विषय में जो मूल तथ्य निर्विवाद रूप से मान्य हैं, वे हैं :-

    * चाणक्य तक्षशिला में राजनीतिशास्त्र के अध्यापक थे और चन्द्रगुप्त को शिष्य-रूप में ग्रहण करके उन्होंने उसे एक विज्ञ एवं वीर योद्धा का स्वरूप दिया था |

    * जिस समय सिकन्दर का आक्रमण हुआ, चन्द्रगुप्त लगभग 22-23 वर्ष का युवक था और सिकन्दर एवं पुरु के युद्ध के समय वह अपने गुरु के साथ युद्ध-क्षेत्र में उपस्थित था|

    * किसी समय किसी कारण नन्द ने चाणक्य का घोर अपमान किया और क्रुद्ध चाणक्य ने नन्द के विनाश का प्रण लिया |

    * चाणक्य और चन्द्रगुप्त ने पाटलिपुत्र पर आक्रमण कर उस पर अधिकार कर लिया और नन्द के स्थान पर चन्द्रगुप्त सम्राट् बना |

    * अब चाणक्य के मार्ग-दर्शन में चन्द्रगुप्त ने साम्राज्य-विस्तार किया एवं मगध-साम्राज्य पश्चिम में तक्षशिला तक फैल गया |

    * जब अनेक वर्षों बाद सिल्यूकस ने आक्रमण किया तो चन्द्रगुप्त ने उसे सिन्धु-तट पर बुरी तरह पराजित किया और उससे कई पश्चिमोत्तर प्रान्त छीन लिये । सिल्यूकस को अपनी कन्या का दान भी करना पड़ा ।

Viewing 1 replies (of 1 total)
  • इस प्रश्न पर अपना उत्तर देने के लिए कृपया logged in कीजिये